आज दक्षिणी दिल्ली के सांसद रमेश बिधूड़ी ने स्वयं के शिव आसरा ट्रस्ट द्वारा तुगलकाबाद गॉंव, संगम विहार और महिपालपुर गॉंव में 125 बेड के 3 मोदी कोविड केयर सेंटर प्रारंभ किए। सांसद रमेश बिधूड़ी जो कि शिव आसरा ट्रस्ट के चेयरमैन है। उन्होंने कोरोना जनित इस वैश्विक महामारी के चलते इस ट्रस्ट के माध्यम से दक्षिणी दिल्ली के प्राचीन शिव मंदिर तुगलकाबाद गांव में 50 बेड, सूरजमल जाट धर्मशाला गली नंबर 9 संगम विहार में 25 बेड और दक्षिणी दिल्ली नगर निगम विद्यालय महिपालपुर गॉंव में 50 बेड कोविड आइसोलेशन सेंटर प्रारंभ किए हैं। इन सभी सेंटरों में कोरोना संक्रमित मरीज जिनका ऑक्सीजन लेवल 86 से 94 के बीच है, उनका निःशुल्क इलाज होगा। इन सभी सेंटरों पर 24 घंटे डॉक्टर, नर्स, सफाई कर्मी मौजूद रहेंगे, ऑक्सीजन कंसंट्रेटर व महत्वपूर्ण दवाईयां उपलब्ध रहेगीं।

इस मौके पर पत्रकार वार्ता में सांसद रमेश बिधूड़ी ने बताया कि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी व भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा जी के मार्गदर्शन में सेवा ही संगठन के संकल्प से प्रेरित होकर उन्होंने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर तीन कोविड आइसोलेशन सेंटर शुरु किए हैं। बिधूड़ी ने आगे बताया कि यह तीनों कोविड आइसोलेशन सेंटर 5 दिन में बनकर तैयार हुए है। इस दौरान बिधूड़ी ने दिल्ली सरकार की ढुलमुल कार्यप्रणाली पर जमकर हमले भी बोले उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार की लापरवाही की वजह से दिल्ली में बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमण से लोगों की जाने गईं है। उन्होंने बताया कि उनके संसदीय क्षेत्र में स्थित राधा स्वामी कोविड केयर सेंटर को दिल्ली सरकार ने जल्दी शुरू नहीं करवाया। उन्होंने कहा कि उनके निवेदन करने पर केंद्रीय गृह मंत्री के हस्तक्षेप करने पर इस केंद्र की शुरुआत हुई। सांसद रमेश बिधूड़ी ने इन तीनों कोरोना आइसोलेशन केंद्रों के संदर्भ में कहा कि कोई भी व्यक्ति जिसका ऑक्सीजन लेवल 86 से 94 के बीच है, वह यहां निशुल्क इलाज के लिए आ सकता है। इसके साथ ही सांसद बिधूड़ी ने कहा कि इन केंद्रों पर भोजन की व्यवस्था माता झण्डेवाली मन्दिर द्वारा करवाई जाएगी।

इस दौरान दिल्ली प्रदेश भाजपा के प्रवक्ता विक्रम बिधूड़ी, निगम पार्षद पूनम भाटी, निगम पार्षद दीपक जैन, महरौली जिला अध्यक्ष भाजपा जगमोहन महलावत, निगम पार्षद इंद्रजीत सहरावत, पूर्व निगम पार्षद पवन राठी, अरविंद कुमार, बलवीर सिंह बल्ली, विपुल चौधरी आदि उपस्थित रहे।