आज स्वतंत्रता दिवस पर दक्षिणी दिल्ली सांसद श्री रमेश बिधूड़ी, अपने संसदीय क्षेत्र के 10 विधान सभाओं में आयोजित ध्वजारोहण कार्यक्रमों में शामिल हुए। इस दौरान बिधूड़ी ने स्वतंत्रता सेनानियों, शहीदों को नमन कर तिरंगा फैराया। उन्होंने महावीर एन्क्लेव में 75 फीट ऊॅंचे तिरंगे झण्डे का शिलान्यास किया और तिरंगा चौक राजापुरी, पालम में पूर्व सैनिकों को सम्मानित किया।

स्वतंत्रा दिवस के अवसर पर सांसद बिधूड़ी ने क्षेत्रवासियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि राष्ट्र के प्रति क्षेत्रवासियों, युवाओं में भक्तिभाव और उत्साह प्रसन्नता का विषय है। राष्ट्रप्रेम की इस भावना को इसी प्रकार बरकरार रखते हुए समाज में सभी आपसी भेदभावों को समाप्त कर समरसता व एकता के साथ रहना ही देश को शक्तिशाली बनाता है। हमें उन कुर्बानियों का भी सदैव स्मरण रखना होगा जिन्होंने कई दशकों तक लम्बे संघर्ष के बाद आजाद भारत में हमें श्वांस लेने का अवसर प्रदान कराया है। सशक्त भारत व नवभारत निर्माण के लिए माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी अपने दृढ़ निश्चय के साथ देश में तेजी से बदलाव ला रहे हैं, उनकी देशहित नीतियों ने भारत का परचम पूरे विश्व में लहराया है और उनकी जनकल्याणकारी योजनाएॅं देश में गरीब, मजदूर, किसान और बेरोजगार युवाओं के लिए वरदान साबित हो रही हैं। बिधूड़ी ने बताया कि आज देश के 29 करोड़ नौजवान मुद्रा बैंक योजना के अंतर्गत लोन लेकर अपना खुद का व्यावसाय कर पा रहे हैं। 37 करोड़ गरीब परिवारों के बैंक में जनधन खाते खुले जिससे सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ सीधे उनके खातों में पहॅुच रहा है। देश में छोटे किसानों की आबादी लगभग 80-82 प्रतिशत है, मानलिजिए एक किसान के 5 बेटों में जमीन का बटवारा होने के पश्चात पूरी जमीन में से एक-एक के हिस्से में बटकर कम जमीन रह गई, छोटा किसान होने के कारण वह उस जमीन पर जुताई-बुआई जैसी आवश्यकताओं की पूर्ति करने में असमर्थ रहते थे, उन्हें कर्ज लेने पर मजबूर होना पड़ता था, बाढ, सूखा, फसल खराब आदि समस्याओं के कारण वह कर्ज तले दबकर आत्माहत्या जैसा कदम उठाने को मजबूर थे। पहले की सरकारें दशकों तक शासन करती रहीं पर गरीब किसान की बदहाली को दूर करने के विषय में कभी सोचा ही नहीं, वर्षों तक किसान गरीबी और अंधकार में रहा। किसानों की चिंता को देखते हुए पहली बार माननीय प्रधानमंत्री जी ने छोटे किसानों को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाने के लिए पार्लियामेन्ट में तीन कृषि सुधार कानून बनाकर उनके उद्धार का मार्ग खोला है। ऐसे किसान परिवार जिनकी आबादी देश में लगभग 11.78 करोड़ है उनके खातों में किसान सम्मान निधि के रूप में एक लाख हजार करोड़ रूपया पहॅुंचा कर उनको सम्मान देने का काम किया है। केंद्र सरकार किसानों को कृषि मशीनरीकरण योजना, फसल बीमा योजना, सॉईल हेल्थ कार्ड, किसान सम्मान निधि जैसी अनेक प्रकार की योजनाओं के माध्यम से किसानों को सशक्त बना रही है। रेहड़ी-पटरी व ठेले पर सामान बेचने वालों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वनिधि योजना के अंतर्गत 10,000 रूपये तक बगैर गारंटी के ऋण उपलब्ध कराने का काम मोदी सरकार ने किया है। उज्जवला योजना के अंतर्गत 8 करोड़ माताओं-बहनों को गैस सिलेंडर (एवं मुफ्त चूल्हे) दिये गए, जिससे कि वह धुऐं वाले चूल्हों से निजात पा सकें और टीबी जैसी जान लेवा व फेफडों की बीमारियों से सुरक्षित रह सकें। 10 करोड़ घरों में शौचालय बनवाये जिससे मातायें-बहनें अच्छे स्वास्थ्य के साथ सम्मान से अपना जीवन जी सकें, उन्हें खुले में शौच जाने से मुक्ति दिलवाई। आयुष्मान योजना के अंतर्गत गरीब लोग एक वर्ष में 5 लाख रूपये तक अपना मुफ्त इलाज करा सकते हैं। इस योजना से अब तक लगभग 11 करोड़ लोगों के आयुष्मान कार्ड बन चुके हैं व लाभांवित हुए हैं।

बिधूड़ी ने बताया कि जिन समस्याओं का समाधान वर्षों तक ना हो सका उन्हें माननीय मोदी जी ने करके दिखाया है, कश्मीर से धारा 370 को खत्म किया, अयोध्या में श्रीराम मन्दिर निर्माण का रास्ता साफ कर सवा सौ करोड़ भारतीयों का मान बढ़ाया है।

इस दौरान दिल्ली प्रदेश भाजपा प्रवक्ता विक्रम बिधूड़ी, जिलाध्यक्ष जगमोहन महलावत, जिला उपाध्यक्ष रणवीर तंवर, निगम पार्षद इन्द्रजीत सहरावत, राजकुमार करहाना, रविन्द्र गोदारा, दीपक जैन, श्रीमती पूनम भाटी, विनोद टुण्डेलकर, पूर्व निगम पार्षद पवन राठी, राजपाल पोसवाल सहित भाजपा कार्यकर्ता एवं सम्माननीय क्षेत्रवासी उपस्थित थे।