2020

04.05.2020 || कृषि कानून की आड़ में विपक्षी प्रधानमंत्री को कर रहे हैं बदनाम:

By April 3, 2021 January 3rd, 2022 No Comments

दक्षिण दिल्ली के सांसद रमेश बिधूड़ी की पांच दिवसीय किसान कल्याण कानून समर्थन यात्रा का कल तीसरा दिन रहा। अब तक इन तीन दिनों की यात्रा में सासंद रमेश बिधूडी 14 गाॅवों का पैदल दौरा कर चुके है। यह यात्रा अंबेडकर नगर विधानसभा की देवली चैपाल से शुरू होकर राजू पार्क, जवाहर पार्क, कृष्ण पार्क, दुग्गल कॉलोनी व खानपुर गांव होते हुए मदनगीर गांव की तरफ गई उसके बाद दक्षिणपुरी डीडीए फ्लैट होते हुए यह यात्रा महरौली विधानसभा के साकेत, नेब सराय, महरौली शमशी तालाब, वसंत कुंज होते हुए रजोकरी गांव में समाप्त हुई। इस यात्रा के 16 किलो मीटर के सफर को सासंद बिधूडी ने पैदल पुरा किया।
इस यात्रा के दौरान सांसद रमेश बिधूड़ी ने खानपुर गांव की चैपाल व लाडो सराय गांव में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान रमेश बिधूड़ी विपक्षी पार्टियों पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि कृषि कानून की आड़ में विपक्षी दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बदनाम करने की साजिश रच रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 6 साल के अपने कार्यकाल में अनेक ऐसे कार्य किए जो बीते 70 वर्षों में विपक्षी पार्टियां नहीं कर पाई। जम्मू कश्मीर से धारा 370 और 35 ए हटाकर जम्मू कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बनाया ताकि यहां भारत के सभी कानून लागू हो सके। इस मौके पर सांसद रमेश बिधूड़ी ने राम मंदिर का भी जिक्र किया उन्होंने बताया कि देश में राम मंदिर का मुद्दा पिछले 70 सालों से लटका हुआ था। केंद्र कि मोदी सरकार ने राम मंदिर के इस जटिल मुद्दे को हल किया। रमेश बिधूड़ी का कहना है की देश की तमाम विपक्षी पार्टियां चाहे वह कांग्रेस हो या आम आदमी पार्टी और वामपंथी सभी मोदी की लोकप्रियता से जले हुए हैं। किसान आंदोलन की आड़ में यह लोग देश के खिलाफ काम कर रहे हैं। जबकि देश के किसान इस कानून के समर्थन में है। बहुत सारे विपक्षी पार्टी के लोग यह कह रहे हैं कि दिल्ली में किसान नहीं रहते है। मैं उनको यह बता देना चाहता हूं कि दिल्ली में 50 फीसदी से भी अधिक लोग किसानी क्षेत्र से तालुकात रखते हैं। भले ही यह लोग कमाने – खाने दिल्ली आ गए हो मगर इनकी जमीनें अभी भी उनके गांव में है, जिन पर खेती हो रही है।
सांसद बिधूड़ी ने आगे कहा कि यह कानून किसानों को कर्ज से मुक्ति दिलाने में अहम होगा। इस कानून में सिर्फ किसान की फसल का ही एग्रीमेंट होगा ना कि उसकी जमीन का। किसी भी तरीके का विवाद जिला न्यायाधीश को 30 दिनों में करना होगा। जनसभाओं को संबोधित करते हुए सांसद रमेश बिधूड़ी अरविंद केजरीवाल पर खासे हमलावर रहे उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में रह रहे किसानों को बिजली सस्ते दामों पर उपलब्ध नहीं करवाई है। दिल्ली में लगभग 365 गांव है। इन सभी गांवों के लोग कृषि कानून को लेकर सरकार का भरपूर समर्थन कर रहे हैं। साथ ही रमेश बिधूड़ी ने कहा कि आंदोलनकारी लोगों का इरादा ठीक नहीं है। देश के प्रधानमंत्री ने स्वयं लोगों को आश्वासन दिया है कि यह कृषि कानून किसानों के हित में है। इसका असर बड़े पैमाने पर किसान संगठनों पर पड़ा है। इसी वजह से अधिकतर किसान संगठन आंदोलन से पीछे हट गए हैं। जबकि कुछ लोग अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा को पूरा करने के लिए इस आंदोलन की आड़ लेना चाह रहे हैं। रमेश बिधूड़ी ने कहा कि गृहमंत्री व कृषि मंत्री कई बार किसानों से मिल चुके हैं। केंद्र सरकार ने किसानों से कानून को लेकर चर्चा करने के लिए रास्ते खुले छोड़ हुए हैं।
यह लोग आंदोलन के नाम पर आम लोगों को परेशान कर रहे हैं जो कि ठीक नहीं है। यह आंदोलनकारी सर्वोच्च न्यायालय के भी आदेशों की अवहेलना कर रहे हैं। इसके बाद यहा की पंचायत के सदस्यों ने सांसद बिधूडी का भव्य स्वागत किया। साथ ही उन्होंने सरकार द्वारा बनाये गये इस कानून का पूर्ण समर्थन किया। इस यात्रा के दौरान दिल्ली प्रदेश भाजपा के संगठन महामंत्री सिद्धार्थन भी उपस्थित रहें। उन्होंने बताया कि रमेश बिधूड़ी द्वारा आयोजित की गई इस पांच दिवसीय किसान कल्याण कानून समर्थन यात्रा को दक्षिणी दिल्ली के लोगों का भरपूर समर्थन मिल रहा है। उन्होंने कहा कि दिल्ली व देश के लोग जानते हैं कि नरेंद्र मोदी किसानों के हितों में कार्य कर रहे हैं। जब यह यात्रा रजोकरी गांव में समाप्त हुई तो वहाॅ के लोगों ने पगड़ी पहनाकर स्वागत किया। इस यात्रा में भाजपा के महरौली जिला के अध्यक्ष जगमोहन मेहलावत व अंबेडकर नगर विधानसभा से पूर्व निगम पार्षद सत्येंद्र चैधरी, पूर्व मेयर खुशीराम, निगम पार्षद सुरेश गुप्ता, सुंदर धारीवाल, चंद्रपाल बैरवा, प्रेम कुमार, संजय इसके अलावा महरौली विधानसभा से मनोज शर्मा, कमल पंचाल, लोकेश चावला व योगेश के अलावा भारी संख्या में पार्टी के कार्यकर्ता व आम लोग उपस्थित रहे।