आज दिनांक 12 मई को सांसद रमेश बिधूडी ने अन्तर्राष्ट्रीय नर्स दिवस फ्लोरेंस नाइटिंगल के जन्म दिवस पर राष्ट्रहित में सभी नर्स व कोरोना वारियर्स जो हमारे और कोरोन वायरस के बीच एक मजबूत दीवार बनकर काम कर रहीं उन सभी को क्मसीप छनतेमे न्दपवद ैक्डब् के साथ विडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से धन्यवाद किया और सांसद बिधूड़ी ने बिजवासन विधानसभा के महिपालपुर स्थित ओल्ड रंगपुरी में संगठन मंत्री श्री सिद्धार्थन जी, निगम पार्षद इदरजीत सहरावत व सहयोगी जितेन्द्र सिंह, नरेश यादव तथा श्री कृष्ण सहित जरूरतमन्द गरीबों को राशन वितरण किया।
आज दक्षिणी दिल्ली सांसद रमेश बिधूड़ी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल को पत्र के माध्यम से यह आग्रह किया है कि दिल्ली के मजदूरों को पलायन करने के लिए मजबूर न किया जाये।
दिल्ली से मजदूर इसलिए पलायन कर रहें है क्योंकि दिल्ली में उनकी कोई सुनने वाला नहीं है। सभी प्राइवेट सिक्योरिटि एजेन्सियों के मालिक या कराखाना या फैक्ट्री चलाने वाले लोग गरीब लोगों को नौकरियों से यह कहकर निकाल दे रहें हैं कि हमारे पास कोई काम नहीं है। ऐसे में मजदूरों के सामने ये स्थिति आ गई है कि नौकरी तो है नहीं और खाने के लिए भी मोहताज होना पड़ रहा जिस कारण वह दिल्ली से पलायन के लिए मजबूर हो रहें। ऐसी परिस्थिति केजरीवाल आपके घर से न निकलने के कारण से हो रही है कि आप और आपके मंत्री कोरोना वायरस की वजह से घर में छुपे हुए बैठे हैं। कोरोना योद्धाओं से कुछ सीख लीजिए केजरीवाल साहब। इसीलिए केजरीवाल साहब आपसे आग्रह है कि इन गरीब लोगों के लिए हर जिला स्तर पर एक लेबर आॅफिसर एसडीएम आॅफिस में दिल्ली के सभी 11 जिले में बैठे और आप उसकी अखबार में या टेलीविजन में एड दें कि कोई फैक्ट्री वाला कोरोना वायरस के तहत तीन महीने के दौरान अगर किसी को काम से निकालते हैं तो उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जायेगी ऐसा प्रावधान निकाले। लेबर एड के तहत यदि मजदूरों को किसी भी बहाने काम से निकाला गया तो यह बर्दाश्त नहीं किया जायेगा और उनको 3 महीने की सैलेरी हर फैक्ट्री के मालिक दे। अगर किसी को पहले से एडवांस दिया है तो उसे अभी एडजस्ट न करें बाद में एडजस्ट कर लिया जायेगा और साथ ही उन्होने यह भी कहा अगर केजरीवाल साहब यह काम नहीं करेंगे तो उन्हें स्वयं केजरीवाल के घर के सामने धरने पर बैठना पड़ेगा।