2019

29.12.2019 Press Release AAROP PATRA Against AAP govt. Chattarpur Assembly

By December 29, 2019 October 19th, 2021 No Comments

आज दक्षिणी दिल्ली के सांसद श्री रमेश बिधूड़ी के नेतृत्व में दक्षिणी दिल्ली के छत्तरपुर विधान सभा क्षेत्र स्थित आया नगर में आम आदमी पार्टी की सरकार के असफल 5 वर्ष के कार्यकाल पर दक्षिणी दिल्ली भाजपा कार्यकर्ताओं ने झूठ और विश्वासघात की केजरीवाल सरकार का अरोप पत्र लोगों के बीच ले जाकर उन्हें सरकार की कुरीतियों से अवगत कराया।

इस दौरान सांसद रमेश बिधूड़ी ने कहा कि केजरीवाल सरकार की नाकामियों से दिल्ली की जनता भली-भांति परिचित है और वह पिछले पॉंच वर्षों से आप सरकार की ढुलमुल गतिविधियों को देख रही है, कि किस प्रकार यह सरकार अपने पॉंच वर्षों की नाकामियों और विफलताओं को मात्र पॉंच महीने में लुभावनी घोषणाओं से व करोड़ो रूपया सिर्फ विज्ञापनों पर खर्च कर जनता की आखों में धूल झोंक कर जनता से किए गए 70 वायदों पर मिट्टी डालने का काम कर रही है। श्री बिधूड़ी ने क्षेत्र की जनता को बताया कि दिल्ली के मुखिया ने दिल्ली की तसवीर बदलने के लिए पिछले पॉंच वर्षों में कुछ नहीं किया है, लोग आज भी दिल्ली में भीड-भाड़़, यातायात जाम, धूल, प्रदूषण, दूषित पेयजल की समस्या से जूझ रहे हैं और अनधिकृत कॉलोनीवासी सड़क, सीवर, नालियॉं इत्यादि जैसी मूलभूत सुविधाएॅं के बगैर नारकीय जीवन व्यतीत कर रहे हैं। जमीनी स्तर पर कहीं भी विकास दिखाई नहीं दे रहा, बल्कि इस सरकार की जनविरोधी गतिविधियों के चलते जनहित कार्य भी बाधित व लम्बित रहे हैं, 4 फेज मेट्रो तुगलकाबाद से ऐरो सिटी द्वारका परियोजना का कार्य जो वर्ष 2016 में ही प्रारंभ होना था, जिससे दक्षिणी दिल्ली की लाखों की आबादी को महरौली-बदरपुर रोड़ पर प्रतिदिन लगने वाले भीषण ट्रैफिक जाम से राहत मिलती, परंतु आप सरकार की हठधर्मी की वजह से यह कार्य वर्षाें से लम्बित रहा। छत्तरपुर एरिया में गर्ल्स कॉलेज खोलने के लिए ग्राम सभा की जमीन आवंटित करवाने हेतु केजरीवाल व सरकार के उच्च अधिकारियों से वर्षों तक गुहार लगाई, लेकिन सफलता नहीं मिली, अंततः वर्षों के अथक प्रयास के बाद दिल्ली के माननीय उपराज्यपाल महोदय के इस कार्य को कराने में उनके हस्तक्षेप के पश्चात यह कार्य संभव हो सका, आने वाले समय में छत्तरपुर एरिया में युवा-बालिकाओं को नवनिर्मित दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेज में उच्च शिक्षा हासिल करने का अवसर मिलेगा। दक्षिणी दिल्ली में यह ऐतिहासिक कार्य तभी संभव हो पाया क्योंकि ‘मोदी है तो मुमकिन है। बिधूड़ी ने कहा कि केजरीवाल ने दिल्ली में 500 नए स्कूल और 20 कॉलेज खोलने का वायदा किया था, परंतु यह जनता का दुर्भाग्य रहा कि पिछले पॉंच साल में कुशासन में लिप्त यह सरकार शिक्षा के क्षेत्र में विफल रही। दिल्ली में गरीब व्यक्ति प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना के तहत 5 लाख रूपये तक का इलाज मुफ्त पा सकता था, लेकिन केजरीवाल ने दिल्ली में यह योजना लागू ना कर गरीब व्यक्ति को स्वास्थ्य लाभ से वंचित रखा।

सांसद महोदय ने बताया कि ग्रामीण विकास की बात करने वाले केजरीवाल ने किसानों से वादा किया था कि उनकी आमदनी तीन गुना करेंगे और 70 साल में गांवों का जो विकास नहीं हुआ है उसे मुक्कमल करेंगे, लेकिन केन्द्र सरकार द्वारा किसानों को दी जाने वाली 6000 रू. की सम्माननिधि को भी केजरीवाल ने रोक दिया। बुजुर्गों को दी जाने वाली पेंशन तक को रोक दिया। केन्द्र सरकार की जनहित की योजनाओं को केजरीवाल 5 साल तक रोकते रहे हैं। गांवों की जमीनों पर बनने वाले मकानों को धारा-81 के तहत एसडीएम की ओर से मुकदमें दर्ज करवाये गये, लेकिन केन्द्र की मोदी सरकार ने इन मुकदमों को वापस ले लिया। जमीन अधिग्रहण के बदले मोदी सरकार ने वैकल्पिक प्लॉट देने की योजना को भी केजरीवाल सरकार ने रोक दिया। यहां तक कि किसानों को खेती के लिये ट्यूबवेल लगाने तक की परमीशन केजरीवाल सरकार ने नहीं दी। अंत में सांसद महोदय ने कहा कि केजरीवाल सरकार के कुशासन से त्रस्त दिल्ली की जनता आगामी विधानसभा चुनाव में इस सरकार की कथनी और करनी का जवाब देगी।